आर्थिक वृद्धि के मामले में बिहार सबसे आगे

Bihar-FY-2014-15-17

राज्य सकल घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी ) के मामले बिहार सबसे आगे है। वित्त वर्ष 2014-15 में बिहार की आर्थिक वृद्धि दर 17.06 प्रतिशत रही है। वहीं महाराष्ट्र 11.69 प्रतिशत की वृद्धि दर तथा 16,870 अरब रुपये के साथ सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में उभरा है। बिक्रवर्क रेटिंग्स की रिपोर्ट के अनुसार इस मामले में तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश दूसरे स्थान पर रहे हैं, लेकिन ये महाराष्ट्र से काफी पीछे हैं। इन राज्यों का जीएसडीपी 9,670 अरब रुपये (प्रत्येक) है।

हालांकि, जब जीएसडीपी में उद्योग के योगदान की बात आती है, तो गुजरात, महाराष्ट्र से आगे है। गुजरात के जीएसडीपी में उसके उद्योग का योगदान 27.26 प्रतिशत है, जबकि महाराष्ट्र के मामले में यह 25.18 प्रतिशत बैठता है। जीएसडीपी की वृद्धि दर के मामले में 17.06 प्रतिशत के साथ बिहार सबसे आगे है। मध्य प्रदेश 16.86 प्रतिशत की वृद्धि दर के साथ दूसरे, गोवा 16.43 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा है। नया बना राज्य तेलंगाना 5.3 प्रतिशत की वृद्धि दर के साथ काफी पीछे है।

राज्य में जुटाए गए करों पर निर्भरता के मामले में भी महाराष्ट्र सबसे आगे है। उसकी कुल राजस्व प्राप्तियों में करों का हिस्सा 70 प्रतिशत है। इस मामले में उसके बाद गुजरात और तमिलनाडु का नंबर आता है। व्यय के बारे में रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्य औसतन 43 प्रतिशत खर्च सामाजिक सेवाओं पर करते हैं। वे आर्थिक सेवाओं पर 22 प्रतिशत तथा सामान्य सेवाओं पर 23 प्रतिशत खर्च करते हैं।

Source: Zee News

Chirag
Trying to connect you from almost all the hottest news of Bihar and the reason behind this is to ensure the proper awareness of all of the citizen.
So say AaoBihar

Comments

comments