बिहार को बदनाम करने की एक और साजिश झूठी साबित हुई

Mat-badnam-karo-bihar-ko

लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव बिहार की नीतीश सरकार में उपमुख्यमंत्री हैं सड़क निर्माण भी उनके पास है. इसलिए इस तस्वीर को उनके नाम के साथ जोड़ा जा रहा है. जबकि बिहार विधानसभा चुनाव के वक्त बिहार में बहार के नाम से कैंपेन शुरू हुआ था और इसी बहार पर लोग तंज कस रहे हैं.

इस तस्वीर ने सबसे ज्यादा ध्यान तब खींचा जब 3 जुलाई को वरिष्ठ पत्रकार मधु किश्वर ने तस्वीर को ट्वीट करते हुए लिखा
”बिहार के एक दोस्त ने ये तस्वीर शेयर की है जो बिहार में सड़क निर्माण के नाम पर हुए घोटाले की गवाही दे रही है.”
एबीपी न्यूज ने जब वायरल हो रही इस तस्वीर की पड़ताल की तो पता चला सड़क फोल्ड होने की ये कहानी बिहार की नहीं बल्कि बांग्लादेश की है.

viral-31

सबसे पहले 24 जून को बांग्लादेश के रिफत आलम ने ये तस्वीर ट्वीट की थी और लिखा था, ”आहा देश सच में सिंगापुर हो गया. धरती का पहला फोल्ड होने वाला रास्ता”

बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने रिफत के इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए सुबूत दिया है कि ये तस्वीर बिहार की नहीं है.

तेजस्वी ने लिखा, ”बिहार की छवि खराब करने के लिए बांग्लादेश की एक तस्वीर का इस्तेमाल किया गया. मधु किश्वर जी कम से कम आप से सही जानकारी शेयर करने की उम्मीद है.”

इसके बाद ट्विटर पर हैशटैग मत बदनाम करो बिहार को चल पड़ा.

बिहार पर चर्चा गर्म थी तो राष्ट्रीय जनता दल यानि आरजेडी के मुखिया लालू यादव ने हमला करते हुए कहा कि, ”ढोंग पाखंड की बदौलत तो ये लोग ज़िंदा है. झूठ, मक्कारी छोड़ दी तो इनकी दुकान बंद”

एबीपी न्यूज की पड़ताल में बिहार के नाम पर पेश की गई ये तस्वीर झूठी साबित हुई है.

Source: ABP News

Sanskriti
A girl from the capital of Bihar, trying to understand the past underdevelopment of Bihar and exploring the ways to improve the status of the State

Comments

comments