भारत के पहले लड़ाकू विमान को बनाने का श्रेय जाता है इस बिहारी को

Tajas-First-Indejenous-fighter-jet-india
देश में बने पहले फाइटर एयरक्राफ्ट तेजस के शुक्रवार को वायु सेना में शामिल होने से सेना की ताकत बढ़ी है। बिहार के मिथिला से तेजस का खास कनेक्शन है। दरअसल, मिसाइलमैन के नाम से प्रसिद्ध पूर्व राष्ट्रपति दिवंगत डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के साथ दरभंगा जिले केघनश्यामपुर प्रखंड स्थित बाउर के वैज्ञानिक डॉ. मानस बिहारी वर्मा के नेतृत्व में तेजस बना था।
गांव में अभी भी चौपाल लगाते हैं डॉक्टर वर्मा
tejas4
– तेजस के वायु सेना में शामिल होने के पूर्व राष्ट्रपति द्वारा डाॅ. वर्मा की प्रशंसा के शब्द लोगों की जेहन में कौंध आए।
– 2005 में दरभंगा में एक कार्यक्रम के दौरान डॉ. कलाम ने मानस बिहारी वर्मा को याद किया। मंच पर उन्हें अपना घनिष्ठ मित्र बताया।
– देश के उत्थान, विकास और मजबूती में उनके योगदान की सराहना की। कहा- प्रदेश सरकार राज्य के विकासात्मक कार्य में इनका भरपूर सहयोग ले।
अभी भी गांव में होते हैं, तो चौपाल लगाते हैं डॉ. वर्मा
– डॉ. मानस बिहारी वर्मा ने गांव के हाई स्कूल से मैट्रिक पास कर पटना साइंस कॉलेज और बिहार इंजीनियरिंग कॉलेज (अब एनआईटी) पटना से उच्च और तकनीकी शिक्षा प्राप्त की।
– ग्रामीण समाज से सदा जुड़े रहते हैं। जब कभी भी गांव में होते हैं, तो सुबह नित्य क्रिया से निवृत्ति के बाद दरवाजे पर चौपाल लगाते हैं।
– इसमें हम उम्र लोगों के साथ ही युवा पीढ़ी की भी भागीदारी होती है। चाय की चुस्की के साथ देश-दुनिया की खबरों पर चर्चा होती है।
– संदेश यही होता है कि हर कोई समाज और देश को अपने काम के जरिए कुछ लौटाए। युवाओं से यही अपील करते हैं।
– यही वजह है कि कुछ खास मौकों को छोड़ कर दरभंगा शहर या गांव में ही रहना पसंद करते हैं।

… और मिली दोहरी खुशी

Tajas-First-Indejenous-fighter-jet-india

– तेजस के एयर फोर्स में शामिल होने के साथ ही इस पूरे बिहार का सिर गर्व से ऊंचा हुआ।
– क्योंकि, डॉ. कलाम के मित्र जिस मानस बिहारी वर्मा ने तेजस बनाया, उनका पैतृक गांव घनश्यामपुर में है।
– इसी घनश्यामपुर की माटी की बेटी भावना कंठ भी पिछले महीने इतिहास रच चुकी है।
– भावना फाइटर प्लेन की पायलट बन कर आसमान की उन बुलंदियों को चूम चुकी हैं, जिसके आगे पूरी दुनिया नतमस्तक है।
– इस तरह मिथिला और बिहार वासियों को दोहरी खुशी मिली है।
Subhikhya
Not from Bihar, heard a lot about the state. Always interested in exploring the art culture and politics of the state. So here I am, writing and doing PR for AaoBihar.com
Come and Join Us :)

Comments

comments