शिक्षा: UPSC परीक्षा पास होने के बाद भी दे रहे है गुरु ज्ञान

Apoorva-Eckvoation

शिक्षा का विकाश तभी संभव है जब एक परीक्षा में सफल इंसान वापस उसी परीक्षा की तैयारी कराये। यही वजह थी जिससे कोटा इंजीनियरिंग की तैयारी का केंद्र बना है। बिहार में हर एक दिल में IAS बनाने की चाह रहती है और अब इसी की परीक्षा की तैयारी को UPSC पास किये लोग करा रहे है।

अपूर्व मिश्रा, UPSC 2014 के परीक्षा को पास किया।  देश में शिक्षा के हाल को देख, UPSC ज्वाइन न कर, देश को शिक्षित करने की ठानी। आज वो देश के हर कोने में इस पहल को पंहुचा रहे है। इनका ये प्रयास हर दिन, देश के हर वो लोग जो IAS बनाने का सपना देख रहे है, उन तक  पहुंच रहे है और उन्हें अपूर्व हर रोज़ पढ़ा रहे है और गुरु ज्ञान दे रहे है। ये सब कुछ बिलकुल मुफ्त है ताकि हर वो इंसान जो पढ़ना चाहता है उस तक शिक्षा का प्रसार संभव हो।

presidenthouse

अपूर्व मिश्रा, खुद शिक्षिका के पुत्र है और यही वजह है की शिक्षा उनके कण कण में बसती है। UPSC की परीक्षा के बारे में उनका मानना है की भले ही इसका सिलेबस विशाल है पर अगर कोई सही से समझा सके की क्या आवश्यक है क्या नहीं तो चीज़े बहुत आसान हो जाती है। कोई भी समस्या तब तक कठिन लगती है जब तक ठीक से समझ नहीं आती, ठीक उसी तरह अगर UPSC की परीक्षा को ठीक से समझ भी लिया तो आधी तैयारी वही पूरी हो जाती है।

अपूर्व सर के वेबसाइट से पढ़े : Click Here

इस शुरुवात में, कुछ महीनो में ही इनसे 10000 से भी ज्यादा छात्र-छात्राये जुड़ गए है और इसका प्रसार तेजी से हो रहा है। आप भी इनसे जुड़ कर बहुत कुछ सिख सकते है और अपनी तैयारी को मजबूती दे सकते है। सिर्फ UPSC ही नहीं, SSC, Bank PO, RBI के एग्जाम के लिए भी अपूर्व सर पढ़ा रहे है और छात्रों को सफल बना है।

upsc-gate
आप सभी भी सर को लिख सकते है, उनका ईमेल है apoorv@eckovation.com और साथ ही आप उनके लर्निंग ग्रुप को भी ज्वाइन कर सकते है जहा हर दिन आपको UPSC तथा अन्य सरकारी नौकरियों के बारे में पढ़ाया जायेगा। इनके ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए, Eckovation app डाउनलोड कर लीजिए, और ग्रुप कोड लिखे: 873541
आपके जानने वाले अगर इन परीक्षाओ की तैयारी कर रहे है तो उनतक ये बात जरूर पहुचाये।

 

Sanskriti
A girl from the capital of Bihar, trying to understand the past underdevelopment of Bihar and exploring the ways to improve the status of the State

Comments

comments