भोजपुरी को अपनी असल पहचान देता ये खूबसूरत गीत: चौथा क्लास के ड्राइंग बुक

chauthaa class ke

भोजपुरी को अपनी असल पहचान देता ये खूबसूरत गीत
हाल ही में छठ पर आये विडियो को तो आप ने देखा ही होगा, जिसे शारदा सिन्हा जी ने अपने आवाज़ से खूबसूरत तरीके से पिरोया था। इस बार एक बार फिर से कमाल गाने के साथ भोजपुरी के सम्मान में चार चाँद लगते नितिन चंद्र ने ऐसा गाना लिखा है जिसे सुन आपको अपना बचपन याद न आये तो फिर कहियेगा।

चौथा क्लास के ड्राइंग बुक में हमलोग बहुत कुछ बनाते है जो जो हम सब देखते है, बिहार से निकले प्रवासी के दिलो में जो है उसको बखूबी इस गाने में सुनाया गया है।

सुने इस बेहतरीन गीत को

ये सब सुन वापस वही सम्मान भोजपुरी गाने के लिए वापस आ रहा है जो भिखारी ठाकुर के ज़माने में हुआ करता था। अब विचारक भाषा को असल मतलब देते हुए भोजपुरी को अंतराष्ट्रीय अस्तर पर बेहतरीन अंदाज़ में प्रेजेंट कर रहे है। इन सब पर हम भोजपुरी वासी अगर थोड़ा भी साथ दिए तो क्या कमाल होगा।
गाने को सुने और सुनते ही शेयर करे इसे तमाम लोगो के साथ जो भोजपुरी को अंधकार में जाता समझने लगे है। खूब खूब शेयर करे।

Sanskriti
A girl from the capital of Bihar, trying to understand the past underdevelopment of Bihar and exploring the ways to improve the status of the State

Comments

comments