ये हैं बिहार के IAS टॉपर, जिनके सफलता की कहानी है दिलचस्प

bihar-ias-topper
अगर आप लक्ष्य पर फोकस कर रहे हैं, मेहनत कर रहे हैं तो कोई भी बाधा आपको रोक नहीं सकती। सफलता मिलनी तय है। यूपीएससी में नौवीं रैंक लाने वाले दिव्यांशु कहते हैं- मेरे साथ कुछ ऐसा ही हुआ। यूपीएससी की परीक्षा में पहली बार भाग ले रहे थे। पीटी निकाल लिया। मेंस के समय डेंगू ने रास्ता रोक दिया। वर्ष 2012 में उसने दोबारा यूपीएससी में भाग लिया। रैंक मिली 648। फिर तैयारी की और तीसरे प्रयास में उसने राष्ट्रीय स्तर पर नौवां स्थान हासिल कर लिया।

 

12वीं : सेंट माइकल, टॉपर
जेईई : 2006, एआईआर 10
तीन वर्षों से लगातार कैट में बेहतर प्रदर्शन । आईआईएम अहमदाबाद से उन्हें कॉल आया। दिव्यांशु ने कहा कि अगर इस वर्ष यूपीएससी में बेहतर रैंक नहीं आता तो आईआईएमए ज्वाइन कर लेते।

 

UPSC के लिए विशेष टिप्स

तकनीक के विकाश से तैयारियों में भी खूब बदलाव आया है इसलिए अब के टॉपर्स की तैयारी करने की शैली में बदलाव देखा जा सकता है। मोबाइल के युग में आप तैयारी में इसका पूरा सहयोग प्राप्त करे। बिहार के IAS और राजस्थान के IAS ऑफिसर्स मिल कर आपको Eckovation App के Civil Services वाले ग्रुप में भरपूर सहयोग दे रहे है।
अगर आप भी IAS बनना चाहते है तो ये 2 कदम अभी ले:
1. अपने मोबाइल में Eckovation App download करे : Link
2. ग्रुप ज्वाइन करने के लिए Group Code डाले: 873541
Subhikhya
Not from Bihar, heard a lot about the state. Always interested in exploring the art culture and politics of the state. So here I am, writing and doing PR for AaoBihar.com
Come and Join Us :)

Comments

comments