छपरा से तैयारी कर, IIT परीक्षा में किया नाम रौशन

chapra iit

जहाँ IIT में जाने के लिए बिहार से छात्रों का पलायन कोटा की तरफ होता था और कोई ये सोच नहीं सकता था की छपरा में रह कर भी IIT की परीक्षा में सफलता पाया जा सकता है। इस पूरी सोच को बदलते हुए छपरा के देबोमाये डे ने इतिहास रचा है। आज JEE Advanced का रिजल्ट आया है और देबोमाये ने JEE में ऐसा रैंक लाया है जहा इनका IIT में जाना तय हो गया है। EWS में 333 रैंक ला कर इन्होने सारण डिस्ट्रिक्ट का नाम रोशन किया है। देबोमाये को mains में 99.62 परसेंटाइल आया था और जनरल में 3955 रैंक ला कर इन्होने IIT में जाना तय कर लिया है।

बाहर जा कर तैयारी करने से बहुत तरीके की कठिनाई होती है

देबोमाये ने आओबिहार की टीम से बात करते हुए कहा की,”बाहर जा कर तैयारी करने से बहुत तरीके की कठिनाई होती है और बिगड़ने का डर भी होता है। अब जब छपरा में खुद IIT से पढ़े शिक्षक शारदा क्लासेज में पढ़ा रहे है तो बहार जाने का मतलब ही नहीं है”। अपनी सफलता का पूरा श्रेय उन्होंने अपने परिवार को देते हुए ये कहा की “वसु सर का मैथ्स, सिद्धार्थ सर का फिजिक्स और मिथलेस सर का केमिस्ट्री पढ़ाने का ही तरीका इतना सहज है जो JEE की तैयारी को आसान बना देता है और सिर्फ रोज़ होमवर्क करके और 5-6 घंटा पढ़ने से IIT की परीक्षा में सफलता पायी जा सकती है”।

IIT से पढ़े भाइयो ने छपरा को दिया है नया उम्मीद

वसुमित्र सिंह और सिद्धार्थ सिंह दो ऐसे भाई है जो लाखो की नौकरी को त्याग कर छपरा लौट कर आये और छपरा में शारदा क्लासेज की शुरुवात करि। शारदा क्लासेज ने पहले वर्ष से JEE Mains में शानदार रिजल्ट देना शुरू किया और आज IIT का रिजल्ट दे कर कमाल कर दिया है। कोटा में जहा बनने से ज्यादा बिगड़ने का डर रहता है वही छपरा में इन शिक्षकों से पढ़ कर बच्चे अपने माता पिता के साथ रहते है और भरपूर तैयारी करते है।

SharadClasses.png

छात्रों के साथ साथ छात्राओं का भी रूचि अब शारदा क्लासेज के शहर में आ जाने से बढ़ गया है। यही वजह है की पुरे बिहार में शारदा क्लासेस का नाम लगातार बढ़ रहा है। जहा आनंद कुमार ने super 30 से पटना का नाम रौशन किया, आज छपरा का नाम इन दो भाइयो की जोड़ी से खूब हो रहा है।

Chirag
Trying to connect you from almost all the hottest news of Bihar and the reason behind this is to ensure the proper awareness of all of the citizen.
So say AaoBihar

Comments

comments