बिहारियों ने IIT के GATE की परीक्षा में लहराया झंडा

14_03_2020-gate_20109569

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) दिल्ली ने शुक्रवार को ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (GATE), 2020 का रिजल्ट जारी कर दिया। आइआइटी दिल्ली की ओर से सभी 25 विषयों में टॉपरों की सूची जारी की गई है।

NIT पटना के छात्र आभाष राय बने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के टॉपर

एनआइटी पटना के फाइनल ईयर के छात्र आभाष राय इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में ऑल इंडिया टॉपर बने हैं। आभाष को 100 में 87.33 अंक मिले हैं। उत्तर प्रदेश के बलिया के नारायणपुर गांव के रहने वाले आभाष ने कहा कि रिसर्च पर फोकस करना उनकी प्राथमिकता है।

एनआईटी पटना में फोर्थ ईयर के छात्र आभाष ने बताया कि पहले तो विश्वास नहीं हुआ कि उन्होंने इस परीक्षा में टॉप किया है। उन्होंने बताया कि आईआईटी दिल्ली के डायरेक्टर ने मुझे विश्वास दिलाया। लेकिन उन्होंने अपनी आंखों से जब तक रिजल्ट नहीं देख लिया तबतक उन्हें विश्वास ही नहीं हो रहा था कि उन्होंने टॉप किया है। पटना एनआईटी की फोर्थ ईयर के छात्र आभाष एनआईटी पटना के ब्रह्मपुत्र हॉस्टल में रहते हैं।

गेट में सबसे ज्यादा अंक मिले हैं हितेश पोपली को

गेट में सबसे ज्यादा अंक हितेश पोपली को मिला है। उन्हें कंप्यूटर विज्ञान और सूचना प्रौद्योगिकी के पेपर में 100 में से 91 अंक मिले हैं। बता दें कि इस परीक्षा के लिए देशभर से आठ लाख 58 हजार 890 परीक्षार्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। गेट के सभी 25 पेपर में छह लाख 85 हजार 88 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। इनमें से 18.8 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल हुए हैं।

पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में बेगूसराय के गौरव को मिला प्रथम स्थान

गेट परीक्षा, 2020 में बेगूसराय के गौरव कुमार को पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में देश में प्रथम स्थान मिला है। गौरव बेगूसराय के शाम्हो प्रखंड के अकबरपुर चालीस गांव निवासी फुलेंद्र कुमार व वीणा देवी के पुत्र हैं।

गौरव ने बताया कि 25 विषयों में एक विषय पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में उन्हें पूरे देश में प्रथम स्थान मिला है। गौरव को 76.67 प्रतिशत अंक मिले हैं।

गौरव ने मैट्रिक परीक्षा विकास विद्यालय, डुमरी से पास की जबकि इंटर की पढ़ाई बीएसएस कॉलेजिएट स्कूल, बेगूसराय से की है। उन्होंने आइएसएम, धनबाद से इंजीनियरिंग करने के बाद गेट की परीक्षा दी थी।

Chirag
Trying to connect you from almost all the hottest news of Bihar and the reason behind this is to ensure the proper awareness of all of the citizen.
So say AaoBihar

Comments

comments