गरीबी की लड़ाई लड़ते हुए बिहार की टॉपर बनी श्रुति

Shruti-Priya-ISCE-Exam-Topper-Bihar

जिस बेटी के ऊपर से दो साल पहले पिता का साया उठ गया हो और घर का सारा बोझ मां के ऊपर आ गया हो। उस बेटी को आज उसके बदौलत पूरा बिहार जान रहा है।

बिहार के भागलपुर की श्रुति प्रिया ICSE 12वीं में 97 प्रतिशत नंबर लाकर स्टेट टॉपर बनी है। श्रुति माउंट एसीसी की स्टूडेंट है। उनके पिता मुंबई में फोटो जर्नलिस्ट थे। हार्ट अटैक से उनकी मौत हो गई थी। श्रुति प्रिया की मां नंदिता दास स्वयं सहायता समूह में काम कर घर का खर्च चलाती हैं।

परिवार की हाल बिगड़ने के बावजूद श्रुति के हौसले में कोई कमी नहीं आई। वो पढ़ाई में अपना पूरा समय लगाती रही और कड़ी मेहनत करती रही। श्रुति के अनुसार जिस स्कूल में वो पढ़ती है यानि कि माउंड एसीसी स्कूल में पढ़ाई के बहेतर माहौल है जिस वजह से पीसीएम स्ट्रीम में बिहार टॉपर बन पाई।

shuruti-750x400

साथ ही श्रुति को स्कूल प्रबंधन की तरफ से भी अच्छा माहौल मिला। श्रुति ने ये सफलता बिना किसी ट्यूशन के पाई है। श्रुति ने जेईई मेन और बिहार इंजीनियरिंग की प्रारंभिक परीक्षा पास कर ली है। इसी माह वह दोनों परीक्षा में शामिल होगी। वह आईआईटी में एडमिशन लेकर एस्ट्रो फिजिक्स विषय में रिसर्च कर जीवन वाले नए ग्रहों का खोज करना चाहती है।

Sanskriti
A girl from the capital of Bihar, trying to understand the past underdevelopment of Bihar and exploring the ways to improve the status of the State

Comments

comments