IIT Patna: गाउन की जगह छात्रों ने पहने कुर्ता-पायजामा, छात्राओं ने साड़ी-सलवार

IIT-Patna-Convocation-2016-3

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान पटना (आईआईटी) का चौथा दीक्षांत समारोह और आठवां स्थापना दिवस समारोह शनिवार को आयोजित हुआ। दीक्षांत समारोह में पहली बार भारतीय संस्कृति की झलक देखने को मिली। इस दौरान आईआईटी का पूरा परिसर भारतीयता के रंग में रंगा हुआ था। समारोह में छात्रों ने कुर्त्ता पायजामा पहन रखा था। वहीं छात्राएं लाइट कलर की साड़ी और सलवार कुर्ते में दिखीं।

समारोह में तीन छात्रों को गोल्ड, 11 को सिल्वर मेडल, एक को केदार दास मेमोरियल अवार्ड सहित 222 छात्र-छात्राओं को डिग्रियां दी गई। इसमें बीटेक के 117, एमटेक के 80 और पीएचडी के 25 छात्रों को डिग्रियां दी गई।

IIT-Patna-Convocation-2016-2

बोकारो निवासी छात्र शुभम कुमार को प्रेसीडेंट ऑफ इंडिया गोल्ड मेडल से नवाजा गया। लखनऊ निवासी छात्र आशुतोष अग्रवाल को डायरेक्टर गोल्ड मेडल और बाढ़, पटना निवासी छात्र अमित कुमार को चयेरमैन गोल्ड मेडल से पुरस्कृत किया गया। कंप्यूटर साइंस के आयुष कुमार को प्रो. केदारनाथ दास मेमोरियल एवार्ड से सम्मनित किया गया। आयुष को दस हजार की नकद राशि भी प्रदान की गई।

खास रहा छात्रों का ड्रेस कोड

बीटेक के छात्रों को उजला कुरता पायजामा के साथ ब्लू चौड़ा पट्टी वाला दुपट्टा दिया गया, एमटेक के छात्रों को उजला कुरता पायजामा के साथ हरा रंग का दुपट्टा और पीएचडी के छात्रों को उजला कुरता पायजामा के साथ लाल रंग का दुपट्टा दिया गया। सभी छात्र कोल्हापुरी चप्पल पहने हुए थे। छात्राओं को लाल हरे और ब्लू कलर के दुपट्टे के साथ हलके रंग की साड़ी और सलवार सूट पहनने को दिया गया था।

IIT-Patna-Convocation-2016

नहीं पहुंचे मुख्य अतिथि

दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि आईआईएससी, बेंगलुरु के पूर्व निदेशक पद्म भूषण प्रो. पी बलराम समारोह में नहीं पहुंच सके। हालांकि उन्होंने विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए छात्रों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि दीक्षांत समारोह छात्र जीवन का सबसे महत्वपूर्ण पल होता है। यह वही समय होता है, जब छात्र अपने आप को पूरी तरह से तैयार कर समाज की सेवा में आते हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता आईआईटी पटना के चेयरमैन डॉ. अजय चौधरी ने की। उन्होंने छात्रों को इनोवेशन पर जोर देने के लिए प्रेरित किया। मौके पर अजय चक्रवर्ती, पी मुखर्जी, रजिस्ट्रार सुभाष पांडेय मौजूद थे।

इन्हें मिला गोल्ड मेडल

बीटेक : गोल्ड मेडल

राष्ट्रपति गोल्ड मेडल- शुभम् कुमार,

निदेशक गोल्ड मेडल -आशुतोष अग्रवाल

एमटेक : गोल्ड मेडल

चेयरमैन गोल्ड मेडल- अमित कुमार

प्रो. केदार नाथ दास मेमोरियल अवार्ड : आयुष कुमार

बीटेक सिल्वर मेडल : शुभम कुमार(कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग), मयंक अग्रवाल (इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग) और अविनाश कुमार (मेकनिकल इंजीनियरिंग) प्रोफिसिएंशी (दक्षता) इन प्रोजेक्ट वर्क प्राइज : आशुतोष अग्रवाल (कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग), राघव रस्तोगी(इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग) और कुलकर्णी प्रणव मंगेश (मेकनिकल इंजीनियरिंग)।

एमटेक सिल्वर मेडल : अमित कुमार(मैथमेटिक्स एंड कंप्यूटिंग), पटेल आकाश कुमार अंबा लाल (मेकट्रोनिक्स), अनिल बाबा राव रिंगे (नैनो साइंस एंड टेक्नोलॉजी), नितिन बाबू (कम्युनिकेशन सिस्टम एंड इंजीनियरिंग), वर्तिका तिवारी (कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग), रिशु कुमार(मेटेरियल्स साइंस एंड इंजीनियरिंग), उत्तम कुमार (सिविल एंड इंफ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग) और दीप सिंह ठाकुर(मेकनिकल इंजीनियरिंग)।

Chirag
Trying to connect you from almost all the hottest news of Bihar and the reason behind this is to ensure the proper awareness of all of the citizen.
So say AaoBihar

Comments

comments