अष्टमी को महागौरी की आराधना का विधान है

अष्टमी को महागौरी की आराधना का विधान है

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।। यह भगवती का सौम्य रूप है. यह चतुर्भुजी माता वृषभ पर विराजमान हैं. […]

मां कालरात्रि की कहानी: अंधेरो की रानी

मां कालरात्रि की कहानी: अंधेरो की रानी

नवरात्री के सातंवे दिन हम मां कालरात्रि की पूजा करते हैं। मां दुर्गाजी की सातवीं शक्ति कालरात्रि के नाम से जानी जाती हैं। मां कालरात्रि […]

नवरात्रि के छटवे दिन होती है मां कात्‍यायनी की पूजा

नवरात्रि के छटवे दिन होती है मां कात्‍यायनी की पूजा

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ कात्यायनी रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।। मां दुर्गा के छठे स्वरूप को देवी कात्यायिनी का नाम दिया गया है। […]

नवरात्र का पांचवा दिन मां स्कंदमाता के नाम होता है

नवरात्र का पांचवा दिन मां स्कंदमाता के नाम होता है

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ स्कंदमाता रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।। नवरात्र का पांचवा दिन मां स्कंदमाता के नाम होता है। मां के हर […]

नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की आराधना

नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की आराधना

दधांना कर पहाभ्यामक्षमाला कमण्डलम।  देवी प्रसीदतु मयि ब्रह्मचारिणीण्यनुत्तमा।। मां दुर्गा का दूसरा रूप ब्रह्मचारिणी जिसका दिव्य स्वरूप व्यक्ति के भीतर सात्विक वृत्तियों के अभिवर्दन को […]

नवरात्रि 1 दिन: मां शैलपुत्री की आराधना

नवरात्रि 1 दिन:  मां शैलपुत्री की आराधना

वन्दे वांछितलाभाय चंद्राद्र्धकृतशेखराम।    वृषारूढ़ा शूलधरां शैलपुत्रीं यशस्विनीम।। नवरात्र के पहले दिन भक्तों ने मां शैलपुत्री की आराधना की। बाएं हाथ में कमल लिए मां […]