9 प्रमुख्य विशेषता जो आपको बताएगा की क्यों है ख़ास अपना बिहार

जैसा हिंदी फिल्मों में दिखाया जाता है.. मेरा बिहार, वैसा नहीं…!

हिंदी सिनेमा जगत में बिहार को माफिया लोगो का अड्डा गुंडा राज
दिखा कर … बिहार की ऐसी छवि लोगों ने बना दिया …!!

जैसे, बिहार में लड़की रोड पर नहीं निकल सकती …
एक शरीफ इन्सान …
यहाँ नहीं रह सकता …!!

बिहारी हर बात में गाली का इस्तेमाल
करता हैं …! ??

लेकिन सच तो सच है …

सच 1

हमारे राज्य में बलात्कार के मामले 1/10 है दिल्ली के मुकाबले …
जबकि आबादी दिल्ली से कई गुनी अधिक…!! :-/

सच 2

दंगो में जितने लोग गुजरात में मारे गए हैं उसके 1/15 भी बिहार में नहीं..!!

सच 3

Murder Rate 1/2 है  मुंबई से… कही कम ही ..!!

सच 4

हमें बेबकूफ समझा जाता है.. तो दोस्त,हमारा बिहार अकेले इतने
IAS देश को देता है जितना केरला, आन्ध्र-प्रदेश, तमिलनाडु और गुजरात
मिलकर भी नहीं दे पातें…!!

सच 5

Bank POs सबसे ज्यादा बिहार से है…!! B-)

सच 6

IIT में अकेले बिहारी इतने हैं की महाराष्ट्र और गुजरात मिलाने से
भी बराबरी नहीं कर सकते.

सच 7

बिहार अकेला ऐसा राज्य है जहाँ किसान आत्म-हत्या नहीं करतें, न ही कर्ज तले दबे हैं…!!

सच 8

आज भी बिहार में सबसे ज्यादा संयुक्त परिवार है…!!

सच 9

हम एक रिक्शा चलाने वालों को भी आप कह कर बुलाते हैं…!!

” मैं बिहारी हूँ ” और बिहार से ज्यादा महफूज अपने आप के कहीं नहीं पाता… :)

हमारे लोगों ने कभी किसी राज्य के लोगों का विरोध नहीं किया …(y)

किसी सम्प्रदाय को दबाया नहीं … यहाँ संस्कार बसतें है…!!

मुझे नाज है मैं बिहार से हूँ, बिहारियत मेरे रगों में बसता है … !!!

Bihar has been a victim of extractive capitalism.  A hinterland of both colonial & national neglect.

A pure market for internal colonialism. As a culture of economic backwardness, we have been victim of both external and internal negative inertia.

Proud to be an Indian. Proud to a Bihari. Long live Bihari subaltern cosmopolitanism. Long live Bihari sub-nationalism.

Source: BihariZone

Sanskriti
A girl from the capital of Bihar, trying to understand the past underdevelopment of Bihar and exploring the ways to improve the status of the State