bhojpuri poem

बिहार का लोक- कथा: खूंटे में मोर दाल है, का खाउं-का पीउं, का ले के परदेस जाउं

यह एक लोक- कथा है. बिहार में, विशेषकर भोजपुरी अंचल में यह खासा-लोकप्रिय है. दादी-नानी से यह संगीतमय कहानी अधिकांश लोगों ने अपने [...]

नवरात्री में माई के 5 गीत, भरत शर्मा, मनोज तिवारी और भोजपुरी के मशहूर गायको की आवाज़ में

पूरा बिहार सज जाता है, मेला लग जाता है, माई के गीत से गूंज जाता है, जब जब नवरात्री आता है। ख़ास पर्व [...]

बिहार बा

बिहार  बा  बिहार  बा  बिहार  बा हमरा  देसवा  के  सान  ई  बिहार  बा गौतम -महावीर  ईहे  माटी  पे  जनमले बाबू  कुंवर  सिंह जौहर  [...]

भोजपुरियन के गाँव

बड़ा निक लागे उ निमिया के छाँव, “काली माई” के चउरा “भवानी माई” पुजाय! खेत, खरिहानी पहलवानी के दाँव, फगुआ, चईती बड़ी मनभाव! [...]